Sad Shayari -कभी कभी पत्थर की ठोकर



Kbhi kbhi pathra se bhi nhi aati kharoch,
or kbhi jara si bat se insan bikhar jata hai



Sad Shayari


Sad Shayari



कभी कभी पत्थर की ठोकर से भी नहीं आती खरोंच,
और कभी जरा सी बात से इंसान बिखर जाता है।



Post a Comment

0 Comments